WordPress Theme Selection के वक़्त ध्यान में रखें ये बातें

0
104
WordPress Theme Selection

जब वर्डप्रेस साइट के लिए Theme चुनने की बात आती है तो ज्यदातर शुरुआती Overwhelmed महसूस करते हैं। हजारों फ्री और पेड आप्शन हैं। हर एक थीम  दूसरे की तुलना में बेहतर दिखता है। आप वर्डप्रेस के लिए परफेक्ट WordPress Theme Selection कैसे करें? इस आर्टिकल  में, हम उन 9 चीजों को शेयर करेंगे जिन्हें आपको कंसीडर करना चाहिए, ताकि आप अपनी साइट के लिए Perfect WordPress Theme चुन सकें।

WordPress Theme Selection
Source: Wpbeginners

WordPress Theme Selection के वक़्त आपको क्यों केयरफुल रहना चाहिए?

वर्डप्रेस का यूज़ सभी तरह की वेबसाइट बनाने के लिए किया जाता है। यही कारण है कि हर एक थीम एक अलग मार्केट की ज़रूरत को पूरा करता है।

आपकी वर्डप्रेस थीम को आपकी वेबसाइट के कंटेंट का कॉम्प्लीमेंट होना चाहिए। उदाहरण के लिए, अगर आप पॉलिटिक्स या सोशल इश्यूज पर एक ब्लॉग शुरू कर रहे हैं, तो आप एक ऐसी थीम चाहते हैं जो Readability में सुधार करे।

 

WordPress Theme Selection
Source: WPbeginners

कई वर्डप्रेस थीम कस्टमाइज़ेशन टनज़ ऑफ़ आप्शनज़ के साथ आते हैं। यदि सही ढंग से कोड नहीं किया गया है, तो ये आप्शन आपके लिए थीम को बदलने या दुसरे वर्डप्रेस प्लगइन का यूज़ को मुश्किल बना सकते हैं। आपको उस थीम में लॉक कर दिया जाएगा या आपको स्विच करने में हेल्प के लिए डेवलपर को पे करना होगा।

दूसरी तरफ, कुछ वर्डप्रेस थीम जो रियल में बहुत अच्छी लगती हैं वो रियल में आपकी वेबसाइट को Incredible रूप से धीमा कर सकती हैं। कोई भी धीमी वेबसाइटों को पसंद नहीं करता, विशेष रूप से Google जो तेज़ वेबसाइटों को हाई रैंक देना पसंद करते हैं।

आपकी थीम आपकी वर्डप्रेस साइट का चेहरा है और यूजरज़ और सर्च इंजनों को यह समझने में इम्पोर्टेन्ट रोल प्ले करता है। 

आपने शायद यह कह सुना हो, ‘हर चमकती चीज सोना नहीं होती’।

ऐसा कहकर, आइए यह Conform करने के लिए कि आप अपनी वर्डप्रेस साइट के लिए सबसे अच्छी थीम चुन रहे हैं, आएये उन स्टेप्स पर नज़र डालें।

1. Simplicity के लिए कोशिश  करें 

कई वर्डप्रेस थीम बहुत सारे रंग, Complex लेआउट, चमकदार एनिमेशन आदि के साथ आते हैं। कभी-कभी आपको उन चीज़ों की ज़रूरत हो सकती है, लेकिन ज्यादातर मामलों में आपको रियल में उन सभी की ज़रूरत नहीं होती है।

ऐसी थीम की तलाश करें जिसमें एक डिज़ाइन लेआउट हो जो आपको अपने Goal का सपोर्ट  करने में मदद करता है। इसे अच्छा दिखने की जरूरत है लेकिन Usability और सादगी पर समझौता किए बिना।

सुनिश्चित करें कि थीम की प्रेजेंटेशन स्टाइल ज़्यादा Complicated नहीं हो। वेब डिज़ाइन का पर्पस यूजर को उनकी ज़रूरत इनफार्मेशन ढूंढने और साइट ओनर को एक ही वक़्त में अपने Goal को हासिल करने में मदद करना है।

अगर कोई थीम बहुत अच्छी लगती है लेकिन आपको नया बिज़नेस याकस्टमर हासिल करने में मदद नहीं करता है, तो यह एक अच्छी थीम नहीं है। यह भी एक अच्छी थीम नहीं है जब आपके यूजर रियल में आपकी वेबसाइट के आसपास अपना Way नहीं ढूंढ सके।

2. Responsive Theme अब Optional नहीं है

 

Responsive थीम डिफरेंट लेआउट साइज़ और डिवाइस में अपने लेआउट एडजस्ट करते है।

मोबाइल और दुसरे हैंडहेल्ड डिवाइस से वेब ट्रैफ़िक की एक बड़ी संख्या Generate होती है। आपकी वेबसाइट के थीम के बेसिस पर, यह अमाउंट आपके ट्राफिक के 50% से भी ज़्यादा हो सकती है।

Google मोबाइल फ्रेंडली वेबसाइट को अपने मोबाइल सर्च रिजल्ट में टॉपपर दिखाता है। आपकी साइट के टॉपिक और डेमोग्राफिक के बावजूद, सभी वेबसाइटों को रेस्पोंसिव और पूरी तरह से मोबाइल रेडी होने की ज़रूरत है।

ज़्यादातर वर्डप्रेस थीम डिफ़ॉल्ट रूप से पहले से ही रेस्पोंसिव होते हैं। लेकिन अभी भी ऐसे सेलर हैं जो फिक्स चौड़ाई वाले लेआउट बेच रहे हैं जो मोबाइल फ्रेंडली  नहीं हैं। सुनिश्चित करें कि जिस विषय को आप अपनी वेबसाइट पर डाल रहे है वो रेस्पोंसिव और फुल्ली मोबाइल फ्रेंडली हो।

मोबाइल Readiness के लिए एक थीम का Test

यह जांचने का सबसे आसान तरीका कि थीम रेस्पोंसिव है या नहीं, आपनी ब्राउज़र स्क्रीन का साइज़ बदलकर देखे। जैसे ही आप अपनी ब्राउज़र स्क्रीन का आकार बदलते हैं, आप देखेंगे कि थीम का लेआउट स्क्रीन विड्थ में स्वयं को एडजस्ट करेगा।

ज़्यादा अच्छे टेस्टिंग के लिए आप थीम के डेमो पेज के यूआरएल का कॉपी बना सकते हैं और इसे Google के मोबाइल फ्रेंडली टेस्ट पेज में पेस्ट कर सकते हैं।

कृपया ध्यान दें कि यह टेस्ट कुछ वार्निंग दिखाएगा, इस पर ध्यान दिए बिना कि विषय कितना अच्छा है। Red flags like text too small, content wider than screen जैसे वार्निंग पे ध्यान दें

3. ब्राउज़र Compatibility

आपके यूजर डिफरेंट ब्राउज़रों का यूज़ करेंगे। आपकी थीम आपके द्वारा यूज़ किए जाने वाले ब्राउज़र पर बिल्कुल सही लग सकती है, लेकिन अन्य ब्राउज़रों में कुछ टूटा जा सकता है।

यह वो जगह है जहाँ ब्राउज़र की compatibility आते है। बहुत सारे डेवलपर थीम को बहुत सारे ब्राउज़र के लिए कम्पेटिबल बनाने के लिए Sophisticated ब्राउज़र कम्पेटिबिलिटी टेस्टिंग टूल से rigorously टेस्ट करते है।

वे Clearly उनकी वेबसाइट पर इसको Mention कर सकते हैं। लेकिन अगर वे नहीं करते हैं, तो आप Google क्रोम, फ़ायरफ़ॉक्स, इंटरनेट एक्सप्लोरर, सफारी इत्यादि जैसे डिफरेंट ब्राउज़रों पर थीम की जांच के लिए हमेशा कुछ बुनियादी टेस्ट चला सकते हैं।

मोबाइल पर डिफरेंट ब्राउज़रों पर भी टेस्ट करना न भूलें।

4. Supported प्लगइन्स

वर्डप्रेस प्लगइन के साथ वर्डप्रेस की असली पॉवर आता है। ये प्लगइन्स आपके वर्डप्रेस साइट के साथ कुछ भी करना पॉसिबल बनाता है।

जबकि बहुत सारे वर्डप्रेस प्लगइन्स हैं, कुछ में हर एक वेबसाइट के लिए वर्डप्रेस प्लगइन्स होना चाहिए। जैसे  Gravity Forms, Yoast SEO, W3 Total Cach इत्यादी।

सुनिश्चित करें कि आपका वर्डप्रेस थीम सभी पॉपुलर प्लगइन का सपोर्ट करता है। यदि आप Unsure हैं, तो इसके बारे में थीम डेवलपर से पूछें।

5. Translation + Multilingual रेडी

बड़ी संख्या में वर्डप्रेस साइटें अंग्रेजी भाषा में नहीं हैं। आप अंग्रेजी के अलावा किसी दुसरे लैंग्वेज में एक वेबसाइट बना सकते हैं। हो सकता है कि आप फ्यूचर में Multilingual वर्डप्रेस साइट बनाने का प्लान बना रहे हों।

सुनिश्चित करें कि आपका वर्डप्रेस थीम ट्रांसलेशन तैयार है और Multilingual वर्डप्रेस प्लगइन का सपोर्ट करता है।

6.पेज Builders

पेज बिल्डर्स वर्डप्रेस प्लगइन्स हैं जो आपको ड्रैग और ड्रॉप यूजर इंटरफेस का यूज़ करके पेज लेआउट बनाने की परमिशन देता हैं।

कई प्रीमियम वर्डप्रेस थीम पेज बिल्डर्स के साथ Pre-Install होते हैं। इनमें से कुछ पेज बिल्डर्स का यूज़ सिर्फ उस थीम डेवलपर द्वारा किया जाता है।

लैंडिंग पेजों को बनाने के लिए ऐसे पेज बिल्डर का यूज़ करके बहुत सारे Unwanted कोड क्रिएट हो सकते हैं। यदि आपने कभी थीम को स्विच किया है, तो उन पेजों को बहुत क्लीनिंग की ज़रूरत होगी।

आपको उन थीम को चुनना चाहिए जो सबसे ज़्यादा यूज़ किए जाने वाले पेज बिल्डर प्लगइन के साथ शिपिंग किए जा रहे हैं। आप इन पेज-बिल्डर्स को दुसरे थीम के साथ अलग-अलग यूज़ करने के लिए भी खरीद सकते हैं।

7. ज़रूरत होने पर Support Options

Source: Wpbeginners

एक मुफ्त वर्डप्रेस थीम का यूज़ करने का एक नेगेटिव साइड यह है कि कोई Guaranteed सपोर्ट नहीं है। जबकि कुछ डेवलपर्स अपने मुफ्त थीम के लिए एक्सीलेंट सपोर्ट प्रोवाइड करते हैं, कई फ्री फ्री थीम में कोई सपोर्ट आप्शन नहीं होता है।

यदि आप अपनी वर्डप्रेस थीम को गड़बड़ करते हैं, तो आपको इसे खुद ही समझना होगा। आप सबसे छोटी प्रॉब्लम को हल करने के लिए किसी थर्ड-पार्टी डेवलपर का पेमेंट भी ख़त्म कर सकते हैं।

सुनिश्चित करें कि आप एक ऐसे वर्डप्रेस थीम का सलेक्शन करें जिसमें अच्छा डॉक्यूमेंटेशन और सपोर्ट आप्शन हो। ज़्यादातर प्रीमियम वर्डप्रेस थीम डिटेल्ड डॉक्यूमेंटेशन के साथ 1 साल का ईमेल बेस्ड सपोर्ट प्रोवाइड करते हैं।

8. SEO Friendliness

Source: WPbeginners

आपकी वर्डप्रेस थीम आपकी साइट की एसईओ फ्रेंडली होने में एक इम्पोर्टेन्ट रोल निभाती है। एक अच्छी लग रही थीम अभी भी खराब कोडेड एचटीएमएल Generate कर सकती है, यह सर्च इंजन पर आपकी साइट के परफॉरमेंस को एफेक्ट कर सकती है।

शुरुआती लोगों के लिए थीम के सोर्स कोड को एनालाइज करना मुश्किल हो सकता है। यही कारण है कि कई प्रीमियम वर्डप्रेस थीम डेवलपर आपको बताएंगे कि उनके पेज एसईओ के लिए ऑप्टिमाइज़ हैं।

आप यह देखने के लिए भी देख सकते हैं कि पेज W3C मार्कअप वेलिडेशन सर्विस के साथ इसे जांचकर प्रॉपर HTML5 Generate करता है या नहीं। हालांकि, कृपया ध्यान दें कि डब्ल्यू 3 सी टूल कई वार्निंग Generate करेगा जिसके बारे में परेशां  होने के लिए कुछ भी नहीं हैं।

9. Ratings and Reviews

वर्डप्रेस थीम की क्वालिटी का एक और ठोस इंडिकेटर उनके यूजरज़ द्वारा प्रोवाइड की गई रेटिंग और रिव्यु है। यदि थीम किसी थर्ड पार्टी के मार्केटप्लेस पर बेचा जाता है, तो आप कस्टमर रिव्यु देखेंगे।

मुफ्त वर्डप्रेस थीम के लिए, आपको डाउनलोड बटन के ठीक नीचे रेटिंग सेक्शन मिल जाएगा। यह यूजर द्वारा दी गई रिव्यु और स्टार की संख्या दिखाएगा। यदि आप 5 स्टार पर क्लिक करते हैं, तो यह आपको उन सभी रिव्यु को दिखाएगा जिन्होंने थीम को 5 स्टार दिए थे।

लगभग सभी वर्डप्रेस थीम को कुछ खराब रिव्यु मिल सकती है। लेकिन यदि बुरी रिव्यु की संख्या unusual रूप से ज़्यादा है तो उन्हें सावधानी से पढ़ना चाहिए।

हमारे सुझाव

डेली बेसिस पर जारी किए जा रहे नए के साथ बहुत सारे मुफ्त वर्डप्रेस थीम भी अवेलेबल हैं।

हालांकि, जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि थीम का सिलेक्शन करते वक़्त विचार करना सबसे इम्पोर्टेन्ट फैक्टर है। मुफ्त वर्डप्रेस थीम गारंटीड सपोर्ट और अपडेट के साथ नहीं आते हैं।

ज़्यादातर प्रीमियम वर्डप्रेस थीम सपोर्ट और अपडेट के लिए 1साल की पेशकश करते हैं। यहां कुछ थीमशॉप हैं जिनको हम हाइली रेकोमेंड करते हैं।

WordPress में थीम कैसे इनस्टॉल करें

वर्डप्रेस में थीम Install करना रियल  में आसान है। सबसे पहले आपको अपने कंप्यूटर पर थीम की ज़िप फ़ाइल डाउनलोड करने की ज़रूरत है।

उसके बाद अपने WordPress एडमिन एरिया में लॉगिन करें और  Appearance » Themes पेज पर जाएं।

थीम पेज के टॉप पर, आपको Add New link पर क्लिक करना होगा।

यह आपको Add new theme पेज पर ले जाएगा। आप इनस्टॉल करने के लिए इस पेज का यूज़ कर सकते हैं। लेकिन चूंकि हमने थीम को पहले ही डाउनलोड कर लिया है, इसलिए आपको टॉप पर अपलोड थीम लिंक पर क्लिक करना होगा।

अब आप थीम अपलोड बॉक्स देखेंगे। आपके द्वारा पहले अपने कंप्यूटर पर डाउनलोड की गई थीम ज़िप फ़ाइल को चूज़  करने के लिए Choose File Button पर क्लिक करें और फिर अभी Install now बटन पर क्लिक करें।

वर्डप्रेस अब आपके कंप्यूटर से थीम को अपनी वेबसाइट पर अपलोड करेगा और इसे आपके लिए इंस्टॉल करेगा। एक बार ऐसा करने के बाद, आपके थीम को प्रीव्यू या एक्टिव करने के लिंक के साथ एक सक्सेस मेसेज दिखाई देगा।

यदि आप तुरंत थीम का यूज़ नहीं करना चाहते हैं, तो आप थीम को एक्टिवेट किए बिना थीम का टेस्ट करने के लिए लाइव प्रीव्यू बटन पर क्लिक कर सकते हैं।

कृपया ध्यान दें कि आपको अपनी वेबसाइट पर इसका उइसे करने के लिए थीम को एक्टिवेट करना होगा।

WordPress Themes को सेफली कैसे चेंज करें

नई वर्डप्रेस साइटों के लिए, आप सिर्फ सही थीम का सिलेक्शन कर सकते हैं और इसे अपनी साइट पर इंस्टॉल कर सकते हैं। हालांकि, अगर आपके पास एक इनस्टॉल वर्डप्रेस साइट है, तो आपको अपनी साइट के डिस्प्ले और SEO पर किसी भी इफ़ेक्ट से बचने के लिए अपनी थीम को सही ढंग से स्विच करने की ज़रूरत नहीं है।

सबसे पहले आपको समझना होगा कि जब आप थीम स्विच करते हैं तो वर्डप्रेस साइट के साथ क्या होता है।

आपकी वर्डप्रेस साइट पर कुछ सेटिंग्स गायब हो जाएंगी और आटोमेटिक रूप से आपकी नई थीम पर लागू नहीं होंगी। आपको इन चीजों को समझने की जरूरत है, और आप उन्हें अपनी नई थीम पर दोबारा कैसे डाल सकते हैं।

हमें उम्मीद है कि इस आर्टिकल ने आपको परफेक्ट WordPress Theme Selection की पूरी जानकारी को जानने  में मदद की होगी। आप हमारे ब्लॉग WordPress पर ब्लॉग कैसे बनाएं को भी पढ़ सकते है।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया, तो आप  वर्डप्रेस वीडियो ट्यूटोरियल्स के लिए हमारे YouTube Channel को Subscribe करें। आप हमें Twitter और Facebook पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Additional Reading:

Domain Name और Web Hosting में क्या डिफरेंस है

स्टेप बाई स्टेप Affiliate Marketing गाइड फॉर Beginners

Wix vs WordPress – ज़्यादा बेहतर कौन है?